Select option to list books

रूस द्वारा यूक्रेन के विरुद्ध विशेष सैन्य कार्रवाई

रूस के राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन ने 23 फरवरी, 2022 को यूक्रेन के विरु( विशेष सैन्य कार्रवाई प्रारम्भ की।
• इससे पूर्व रूस ने 22 फरवरी, 2022 को यूक्रेन के अलगाववादी क्षेत्रों लुहान्सक पीपुल्स रिपब्लिक (एलपीआर) और डोनेट्स्क पीपुल्स रिपब्लिक (डीपीआर) को स्वतंत्र और संप्रभु राज्यों के रूप में मान्यता दी है।
• रूस ने वर्तमान संकट के लिए उत्तरी अटलांटिक संधि संगठन ;नाटोद्ध को उत्तरदायी ठहराया है और अमेरिका के नेतृत्व वाले इस संगठन को रूस के लिए एक संभावित खतरा बताया है।
• रूस ने आरोप लगाया है कि यूक्रेन को रूस की ऐतिहासिक भूमि विरासत में मिली थी और सोवियत संघ के पतन के पश्चात् पश्चिमी देशों द्वारा रूस को शामिल करने के लिए इस्तेमाल किया गया था।
• रूस चाहता है कि पश्चिमी देश यह गारंटी दे कि नाटो यूक्रेन और अन्य पूर्व सोवियत देशों को सदस्य के रूप में शामिल होने की अनुमति नहीं देगा।
संकट की पृष्ठभूमि
• रूस और यूक्रेन सैकड़ों वर्षों के सांस्कृतिक, भाषायी और पारिवारिक संबंध साझा करते हैं।
• पूर्वी यूक्रेन डोनबास क्षेत्र (डोनेट्स्क और लुहान्स्क क्षेत्र) वर्ष 2014 से रूसी समर्थक अलगाववादी आन्दोलन का सामना कर रहा है। अप्रैल माह में रूस समर्थक विद्रोहियों ने पूर्वी यूक्रेन क्षेत्र पर कब्जा करना प्रारम्भ कर दिया और मई 2014 में डोनेट्स्क और लुहान्स्क क्षेत्रों में विद्रोहियों ने यूक्रेन से स्वतंत्रता की घोषणा करने हेतु एक जनमत संग्रह आयोजित किया था। तब से यूक्रेन के भीतर रूसी भाषी क्षेत्रों में विद्रोही और यूक्रेनी बलों के मध्य संघर्ष जारी है। इसमें लगभग 14 हजार से अधिक लोगों की मृत्यु हुई, साथ ही इसके कारण लगभग 1.5 मिलियन लोग आंतरिक रूप से विस्थापित हुए।
• अक्टूबर 2021 के पश्चात् गोलीबारी अधिक तेज हो गई जब रूस ने यूक्रेन की सीमाओं पर सैनिकों को तैनात करना प्रारम्भ किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

 
 
 

The product has been added to your cart.

Continue shopping View Cart