Select option to list books

UPSSSC राजस्व लेखपाल भर्ती परीक्षा 2022

गत् दिनों उत्तर प्रदेश अधीनस्थ सेवा चयन आयोग (UPSSSC) ने लेखपाल भर्ती की मुख्य परीक्षा की तिथि की घोषणा की है। यह परीक्षा 19 जून, 2022 को कराई जाएगी। सरकारी नौकरी का सपना देखने वाले युवाओं के लिए यह एक शानदार अवसर है। इस परीक्षा की तैयारी यदि आप एक बेहतरीन रणनीति के अन्तर्गत करते हैं तो आप निश्चित रूप से इस परीक्षा में सफलता प्राप्त कर सकेंगे।
परीक्षा योजना एवं पाठ्यक्रम

उत्तर प्रदेश में राजस्व लेखपाल के 8,085 पदों की लिखित परीक्षा एक पाली की होगी, जिसमें प्रश्नों की कुल संख्या 100 तथा समयावधि दो घंटा होगी। परीक्षा के प्रश्न वस्तुनिष्ठ एवं बहुविकल्पीय प्रकार के होंगे। प्रत्येक प्रश्न एक अंक का होगा।

 

क्र.सं. विषय प्रश्नों की संख्या निर्धारित अंक
1 सामान्य हिन्दी 25 25
2 गणित 25 25
3 सामान्य ज्ञान 25 25
4 ग्राम्य समाज एवं विकास 25 25
योग 100 100

समय-अवधि- 02 घण्टा (120 मिनट)

नोट: उपर्युक्त परीक्षा हेतु निगेटिव मार्किंग (ऋणात्मक अंक) दिये जाने हैं, जो प्रश्न के पूर्णांक का 1/4 अंक (100 प्रतिशत) होगी।
सफलता प्राप्ति हेतु सटीक रणनीति
=>परीक्षा में सफलता हेतु अधिक-से-अधिक अंक प्राप्त करने का प्रयास करना चाहिए। अंकों की मेरिट के आधार पर ही अंतिम चयन सही हैं, ऐसी स्थिति में दो विकल्पों में से सर्वोत्तम विकल्प को चुनें।
=>गणित के अधिकांश प्रश्नों को मानसिक गणना व Trick के आधार पर करने का प्रयास करें।
=>केवल उसी प्रकार के माडल प्रश्न-पत्रों का अभ्यास करें जो परीक्षा में पूछे जाने योग्य हैं।
=>परीक्षा में प्रश्नों को हल करने के लिए जितना समय दिया जाता है, अभ्यास के समय भी उतने ही प्रश्नों को हल करें।
=>प्रतिदिन कम-से-कम दो माडल प्रश्न-पत्रों को हल करें।
=> परीक्षा के सभी भागों के प्रश्नों को उचित समय प्रबन्धन की सहायता से हल करने का यथासम्भव प्रयास करें।
=> निर्धारित समय से पूर्व यदि प्रश्न-पत्र को हल कर लिया हो तो उसका पुनरावलोकन अवश्य कर लें।
=> प्रश्न-पत्र हल करते समय प्रश्नों को ध्यानपूर्वक पढें और पूर्णतः आश्वस्त होकर ही सही उत्तर का चयन करें

विषयवार रणनीति
1. सामान्य हिन्दी
इसके लिए आप हिन्दी व्याकरण की एक मानक पुस्तक का अध्ययन अवश्य करें। प्रश्नों को हल करने हेतु पर्यायवाची, अलंकार, रस, समास, तत्सम-तद्भव, वर्तनी, वचन, कारक, काल, संधियां, विलोम, समानार्थी, अनेकार्थी शब्द आदि का भली-भांति अध्ययन करें।
आप प्रतियोगिता साहित्य सीरीज की पुस्तक वस्तुनिष्ठ हिन्दी (code 497)एवं व्यावहारिक सामान्य हिन्दी (code 499 ) का अध्ययन कर अच्छे अंक अर्जित कर सकते हैं।
2. गणित
इसकी तैयारी के लिए आप लाभ-हानि, प्रतिशत, सांख्यिकी, बारम्बारता, समान्तर माध्य, माध्यिका, बहुलक, लघुत्तम समापवत्र्य, महत्तम समापवत्र्य, युगपत समीकरण, क्षेत्रफल, त्रिभुज, आयात, वर्ग, समलम्ब, त्रिभुज संबंधी पाइथागोरस प्रमेय आदि के प्रश्नों का भरपूर अभ्यास करें। प्रश्नों को हल करने हेतु महत्वपूर्ण सूत्र तथा विधियों के नियम को दिमाग में रखें तथा हल करने की संक्षिप्त विधि (Short Cut Method) का पर्याप्त अभ्यास करें।
इस खण्ड की अच्छी तैयारी हेतु आप एनसीईआरटी की पुस्तकें तथा प्रतियोगिता साहित्य सीरीज की पुस्तक ट्रिकी मैथमेटिक्स (Code A568) की सहायता ले सकते हैं।
3. सामान्य ज्ञान
इसकी तैयारी हेतु सबसे महत्वपूर्ण यह है कि देश-विदेश में घटित हो रही समसामयिक घटनाओं पर निरन्तर ध्यान दें। गत् छह माह से 1 वर्ष में घटित देश-विदेश की प्रमुख घटनाओं, खेलकूद, पुरस्कार-सम्मान तथा आर्थिक वाणिज्यिक घटनाओं एवं उत्तर प्रदेश से सम्बन्धित तथ्यों का अवलोकन करें। प्रतिदिन एक राष्ट्रीय स्तर का समाचार-पत्र अवश्य पढ़ें। इसकी तैयारी का अच्छा उपाय यह है कि प्रतिदिन की घटनाओं को नोट करते जाएं तथा समसामयिक घटनाओं पर आधारित एक स्तरीय मासिक पत्रिका जैसे प्रतियोगिता साहित्य करेन्ट अफेयर्स का अध्ययन उपयोगी सिद्ध होगा।
4. ग्राम्य समाज एवं विकास
इस खण्ड की तैयारी हेतु गांवों हेतु राज्य व केन्द्र सरकार की योजनाएं, ग्रामीण स्वास्थ्य योजनाएं, भूमि सुधार, ग्राम विकास शोध प्रणाली का भलीभांति अध्ययन करें।
इस खण्ड की अच्छी तैयारी हेतु प्रतियोगिता साहित्य सीरीज की पुस्तक उत्तर प्रदेशः एक अध्ययन (Code 607) का अध्ययन उपयोगी सिद्ध होगा।
इस परीक्षा में सफल होने के लिए प्रतियोगिता साहित्य सीरीज की पुस्तक लेखपाल भर्ती परीक्षा (Code 2036)  and   2604 ) का अध्ययन उपयोगी सिद्ध होगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

 
 
 

The product has been added to your cart.

Continue shopping View Cart