Select option to list books

संयुक्त विश्वविद्यालय प्रवेश परीक्षा (CUET) के आधार पर अंडर ग्रेजुएट कक्षाओं में प्रवेश

विश्वविद्यालय अनुदान आयोग (UGC) के अध्यक्ष प्रो. एम. जगदीश कुमार ने 21 मार्च, 2022 को घोषणा की सभी केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में तक पाठ्यक्रमों में प्रवेश कॉमन यूनिवर्सिटी एन्टेªस टेस्ट (Common University Entrance Test–CUET) के स्कोर पर आधारित होगा।
• कक्षा 12 के बोर्ड के अंकों का अब कोई भारांक ;ूमपहीजंहमद्ध नहीं होगा। विश्वविद्यालय अधिक से अधिक परीक्षा हेतु पात्रता मानदण्ड निर्धारित करते समय बोर्ड परीक्षा के अंकों का उपयोग कर सकते हैं।
• 12वीं बोर्ड की परीक्षा में छात्र/छात्रा का प्रदर्शन अब केन्द्रीय विश्वविद्यालय में प्रवेश के लिए कोई कारक नहीं होगा।
• UGC द्वारा वित्त पोषित सभी केन्द्रीय विश्वविद्यालयों में प्रवेश के लिए यह परीक्षा अनिवार्य है।
• यह नियम सभी केन्द्रीय विश्वविद्यालयों पर 2022-23 शैक्षणिक सत्र से लागू होगा।
• ब्न्म्ज् एक कम्प्यूटरीड्डत परीक्षा है और राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) द्वारा आयोजित कीजाएगी।
• प्रवेश परीक्षा हिन्दी, अंग्रेजी, मराठी, गुजराती, तमिल, तेलुगू, कन्नाड़, मलयालम, उर्दू, असमिया, बंगाली, पंजाबी और उड़िया सहित 13 भाषाओं में आयोजित की जाएगी।
• परीक्षा का पाठ्यक्रम कक्षा 12 के NCERT पाठ्यक्रम पर आधारित होगा।
• घोषणा के अनुसार दिल्ली विश्वविद्यालय, जामिया मिलिया इस्लामिया, जवाहर लाल नेहरू विश्वविद्यालय, बनारस हिन्दू विश्वविद्यालय और इंदिरा गांधी राष्ट्रीय मुक्त विश्वविद्यालय सहित सभी केन्द्रीय विश्वविद्यालय में स्नातक कक्षाओं में प्रवेश इस परीक्षा के माध्यम से किया जाएगा।

Leave a Reply

Your email address will not be published.

 
 
 

The product has been added to your cart.

Continue shopping View Cart